वृश्चिक राशि

राशिमंडल की सबसे अधिक भावुक राशि वृश्चिक आठवीं राशि है और इसके स्वामी ग्रह मंगल हैं| वृश्चिक  राशि के व्यक्ति अपने साथ हुए अन्याय को कभी भी नहीं भूल पाते| बुद्धिमत्ता और जीवन में हर कठिनाई का सामना करने में सक्षम वृश्चिक राशि के जातक एक विकट प्रतिद्वंदी माने जाते हैं| यह एक राशि है जिन्हें आप अपने पक्ष में देखना चाहेंगे ना कि विपक्ष में| या तो ये आपको पसंद करेंगे या नापसंद| दूसरा कोई विकल्प इनके जीवन में होता ही नहीं है| यदि इनका आपसे काम निकल गया तो ये आपको अपने जीवन से ऐसे निकाल देंगे जैसे की दूध में से मक्खी| 
वृश्चिक राशि अत्यंत भावुक व संवेदनशील राशि है| इस राशि के  जातक जिन्हें प्यार करते हैं उनसे समर्पण की अपेक्षा रखते हैं| प्यार इनके लिए पूजा है और इस पूजा में इनका समर्पण सराहनीय है| इनके रोमांटिक पहलू से आप खासे प्रभावित होंगे